शीघ्रपतन क्या है ? शीघ्रपतन के कारण लड़के और लड़कियों में , लक्षण और शीघ्रपतन का उपचार!

  • संभोग के दौरान यदि किसी  मर्द हो या औरत का वीर्य  संबंध बनाते समय या संबंध बनाने से पहले ही  निकल जाता है तो इस स्थिति को शीघ्रपतन कहते हैं | शीघ्रपतन की समस्या सिर्फ किसी एक व्यक्ति को नहीं बल्कि कई सारे व्यक्तियों को होती है जिसकी वजह से सारे लोग सही तरह से संबंध नहीं बना पाते है.

शीघ्रपतन के कारण

शीघ्रपत्तन के कारन शारीरिक ना होकर एक मानशिक रोग है जिसका इलाज भी शारीरिक से ज्यादा मानसिक हे| जिसका पहला मुख्या कारण तनाव है, तथा दूसरा मुख्य कारन सेक्स करने का उत्साह हे के कारन “वीर्य” मर्द का लिंग योनि में प्रवेश करने से पहले से ही निकल आता है| या चरम सुख से पहले ही निकल आता है एवं औरत का वीर्य लिंग के योनि में प्रवेश के कुछ समय बाद ही हो जाता है  जिसे हम ORGASM भी कहते है |

इसके विपरीत सभी लोगो का शरीर की जरूरत अलग लग होती है तथा प्रकार भी अलग अलग होते है| एवं वर्तमान समय में चलरही परेशानिया मस्तिक को सेक्स का आनंद नहीं लेने देती जिस कारन मर्द हो या औरत दोनों ही शीघ्रपतन का शिकार हो जाते है और सेक्स का आनंद नही उठा पाते.

शीघ्रपत्तन के कारन अधिकतर मर्द खुद को हीन भावना से देखते हे जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए इस बीमारी का समाधान संभव है| एवं अधिकतरऔरते इस समस्या के बारे में बताती ही नहीं  ये सामाजिक डर के कारण हो सकता हे |

Visit Us- Sexologist Doctor in Delhi 

Original Source – Sexologist in Delhi

हस्तमैथुन के फ़ायदे नुकसान और अफवाहें

हस्तमैथुन  या मुठ मारना – खुद से अपने शरीर के अंगों को छू कर सेक्स की उत्तेजना अनुभव करना का एक तरीका है, जिसमे अकसर व्यक्ति orgasm, ejaculation या climax तक पहुँच जाता है, यानि उसका sperm उसके penis (लिंग) या vagina ( योनी) से बाहर निकल आता है।

पुरुष आमतौर पर ऐसा अपने erected penis को हाथ में लेकर उसे आगे-पीछे करते हैं जब तक कि वे क्लाइमेक्स तक ना पहुँच जाएं जबकि महिलाएं अपनी उँगलियों से वैजाइना को छू कर ये काम करती हैं।हस्तमैथुन या masturbate करने से पहले किसी उत्तेजक फोटो या विडियो को देखना या बस यूँही कुछ बेहद सेक्सी imagine करके अपने sexual parts को उत्तेजित करना भी इसका एक हिस्सा है। Read More

Hastmaithun se chutkara